महिलाओं के मानसम्मान की प्रतिक साड़ी पहनकर आने पर दिल्ली के एक रेस्तरां में महिला को प्रवेश देने से किया गया मना,विडियो वायरल

नई दिल्ली: हमेशा से हमारी सोसाइटी में महिलाओं के पहनावे को लेकर कुछ अनकही शर्तें हैं. कई बार लोग किसी भी लड़के के कपड़ों पर तंज करते देखे जाते हैं. अब इसी तरह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर चर्चा में है. बीते दिन से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे लेकर नई बहस शुरू हो गई है. क्योंकि इस वीडियो में एक महिला को साड़ी में रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं दी गई है

क्या है इस वीडियो में 

दरअसल, इस वीडियो में एक महिला दिल्ली के एक रेस्तरां में एक कर्मचारी से पूछ रही है कि क्या रेस्टोरेंट में साड़ी पहनकर जाने की अनुमति नहीं है. कर्मचारी जवाब देता है कि साड़ी को स्मार्ट कैजुअल के रूप में नहीं गिना जाता है, जबकि होटल केवल स्मार्ट कैजुअल की अनुमति देता है. रेस्टोरेंट ने साड़ी पहनकर पहुंची महिला को प्रवेश से मना कर दिया. बता दें कि इस वीडियो में नजर आने वाली महिला का नाम अनीता है. 

क्या बोलीं महिला 

इस घटना के बारे में बात करते हुए अनीता ने कहा, ‘हमने अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने के लिए खेल गांव में एक्विला नाम के एक रेस्तरां में एक टेबल बुक किया था, लेकिन उन्होंने मुझे अंदर नहीं जाने दिया, क्योंकि मैंने एक साड़ी पहन रखी थी, जिसे वे एक स्मार्ट कैजुअल नहीं मानते.’ इसके आगे उन्होंने कहा कि उनकी बेटी द्वारा उसकी मम्मी को अंदर जाने देने के फैसले का विरोध करने के बाद भी, रेस्तरां के कर्मचारियों ने कहा कि वे उन्हें ही अनुमति देंगे, उनकी मां को नहीं, क्योंकि उन्होंने साड़ी पहनी हुई है.

अनीता ने वीडियो शेयर कर सुनाई आपबीती 

वीडियो को शेयर करते हुए अनीता चौधरी ने लिखा है, ‘अक्वीला रेस्तरां में साड़ी में जाने की अनुमति नहीं है, क्योंकि भारतीय साड़ी स्मार्ट वियर नहीं है. स्मार्ट वियर की परिभाषा क्या है मुझे बताएं. कृपया स्मार्ट वियर की परिभाषा बताएं, ताकि मैं साड़ी पहनना बंद कर दूं.’

ऋचा ने कहा- फांसीवाद  

ऋचा चड्ढा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘ये असभ्यता है- हमारे ट्रेडिशनल कपड़ों की बुराई करना, हमारी भाषा को नीचा दिखाना पोस्ट कोलोनाजेशन ट्रॉमा का सबूत है. इसकी वजह से फासिस्टवाद बढ़ता है और ये इस ट्रॉमा को और भी बड़ा कर देता है. साड़ी स्मार्ट है, आपकी पॉलिसी नहीं #SariNotSorry #Aquila’. ऋचा के इस पोस्ट पर कई लोगों की प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं, लोग उनकी बात से सहमत दिखाई दे रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *