बन्दर की गुलाटी और “CASHBEAN” (P C Financial Services Private Limited) की लोन रिकवरी कभी सीधी नही हो सकती ?

जब कभी पे-डे लोन या इंस्टेंट लोन या फिर ऑनलाइन लोन एप्लीकेशन की बात होती है और साथ में सबसे रिकवरी करने की बात होती है तो वहां पर “CASHBEAN” लोन एप्लीकेशन जो की P C Financial Services Private Limited के द्वारा चलाई जाती है का नाम जरुर पहले आता है .

इस लोन एप्लीकेशन से की रिकवरी प्रोसेस में चाहे कितने ही बदलाव की बात की जाये,कितने ही तरीके बदले जाए लेकिन यह कंपनी कभी सुधरने का नाम नही ले सकती है . एक कहावत है बन्दर कितना भी बूढ़ा हो जाये लेकिन वो कभी गुलाटी मारना नही छोड़ता है और यही हालत CASHBEAN लोन एप्लीकेशन की है.

आखिर  कोन-कोन से हथकंडे अपनाती है ये कंपनियां

इस एप्लीकेशन ने कभी कोई रिकवरी करने में कोई कमी नही छोड़ी फिर चाहे वो अपने ग्राहक के साथ गाली गलोच करना हो ,उनको CBI ,RBI ,DELHI POLICE या फिर हाई कोर्ट के नाम के जाली कागज़ बनाकर धमकाना हो ,लोगो के व्हात्सप्प ग्रुप बनाने हो.ये लोग ये तक कहते है कि यदि आपने हमारे लोन का भुगतान नही किया तो आपको कही किसी NBFC कंपनी और किसी बैंक से लोन नही मिलेगा.

क्या रेफ़रेंस नंबर लोन वसूली के लिए होते है ?

आखिर ऐसा क्या है इनकी कंपनी में जिसकी वजह से इनको रिकवरी करने के लिए इस तरह धमकियाँ लोगो को देनी होती है .ऐसा ही वाकया सामने आया जिसने हमसे संपर्क किया और बताया कि cashbean लोन का रीपेमेंट नही होने पर रेफेरेंस नंबर से संपर्क करके लोन वसूलने की बात कर रहा है और साथ में यह भी धमकी दी जा रही है की यदि हमारा लोन का भुगतान नही किया तो आपके क्रेडिट स्कोर पर प्रभाव पड़ेगा और आपको किसी NBFC कंपनी और किसी भी बैंक से लोन नही मिलेगा .

क्या जवाब है CASHBEAN का इस वाकये को लेकर

यह सबकुछ CASHBEAN की तरफ से पीड़ित की मेल आई डी पर मेल किया गया है. जब हमारे द्वारा ट्विटर पर इसको लेकर CASHBEAN से पूछा गया तो उनका कहना था कि उनकी तरफ से ऐसा मेल किसी को नही किया जाता है.

अब कंपनी की तरफ से पीड़ित को क्या मेल किया गया वो भी आपको बताते है और यह मेल support@cashbean.in मेल आई डी से आया है .

As you are well aware that, your CashBean loan is outstanding for a long period of time due to which we have moved to the next level and forwarded your file to our Recovery Department wherein they have authority to take further action and also can coordinate with your references to make you clear this amount. Non-payment of this will impact your credit score & make you not eligible for loans from any Bank or Non-Banking Financial Companies. Kindly clear this outstanding on an immediate basis to avoid further activities under RBI guidelines.

क्या है एक्सपर्ट्स की राय ?

इस बात को लेकर हमारे द्वारा एक्सपर्ट्स से बात कि और पूछा गया कि

प्रश्न: क्या यह संभव है किसी रेफ़रेंस नंबर का इस्तेमाल ग्राहक से लोन वसूलने में किया जा सके या फिर किसी ग्राहक की आर्थिक स्थिति के बारे में किसी दुसरे से पूछा जा सके या बताया जा सके ?

जवाब : रेफ़रेंस नंबर से संपर्क करने का अधिकार सभी कंपनी को होता है लेकिन वो भी तब ही कर सकते है जब कोई ग्राहक लगातार कुछ दिनो से कंपनी या बैंक का फ़ोन नही उठा रहा है. इस स्थिति में भी बैंक या किसी कंपनी को इतना ही अधिकार है कि वो केवल यह पूछ सके की इस ग्राहक से हमारा संपर्क करवा दीजिये या इनसे केसे संपर्क किया जा सकता है. यह अधिकार बिलकुल भी नही है कि बैंक या कंपनी किसी ग्राहक की आर्थिक स्थिति का धिन्डोरा पीटे . और रेफ़रेंस नंबर का इस्तेमाल केवल ग्राहक से संपर्क साधने में किया जाता है न की लोन वसूली करने में .

दूसरी बात यह की किसी भी कंपनी को ये अधिकार नही है कि वो किसी ग्राहक को यह धमकी दे सके की उसने लोन का भुगतान नही किया तो दूसरी कंपनी या बैंक उसे लोन नही देंगे .यह एक सीधा सा ब्लैकमेल करना हो गया. कंपनी को यह अधिकार है कि वो क्रेडिट स्कोर यह अपडेट कर सकती है कि इसका लोन डिले है और उसकी वजह से क्रेडिट स्कोर पर फर्क पद सकता है .

प्रश्न: यदि कंपनी ऐसी धमकी देती है तो क्या करे ?

जवाब: यदि कंपनी इस तरह की गलत धमकी देकर लोन वसूलने की बात करती है तो ये आपका अधिकार है की आप नजदीकी पुलिस थाने में जाकर अपनी शिकायत दर्ज करवाए और यदि शिकायत दर्ज नही होती है तो आप कोर्ट का सहारा भी ले सकते है .

राजस्थान न्यूज़ टुडे का आप सभी से निवेदन है कि कोई भी कंपनी आपके साथ इस तरह की हरकत करती है धमकी देती है या कोई गलत बर्ताव करती है तो आपकी आवाज़ को सभी तक हमारे द्वारा पहुँचाया जायेगा और हमारे द्वारा आपका पूरा साथ दिया जायेगा. आप इस तरह की धमकियों से डरे न अपने नजदीकी पुलिस थाने में जाये और अपनी शिकायत दर्ज करवाए.

इस सम्बन्ध में हमारे द्वारा कंपनी से संपर्क करने की कोसिस की गई लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नही आया .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *