Religion Conversion Case: मूक बधिर राहुल के बेग में टोपी मिलने और हिन्दू देवी देवताओं का विरोध करने पर माँ को हुआ शक ,ATS को बताया सब कुछ

नई दिल्ली: पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI और विदेशी संस्थाओं के इशारे पर लोगों का धर्म परिवर्तन कर उनमें कट्टरता की भावना भरकर माहौल बिगाड़ने के आरोप में यूपी पुलिस ने तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है. इन लोगों में इरफान शेख, मन्नू यादव उर्फ अब्दुल मन्नान और राहुल भोला नाम के शख्स शामिल हैं.

देवी-देवताओं का करता था अपमान

अपने बेटे की गिरफ्तारी पर राहुल की मां ललिता ने Zee News से बात की है. उन्होंने बातचीत में बताया कि राहुल बार-बार बोलता था जन्नत नसीब होगी. इसके अलावा वह हिन्दू-देवताओं को भी बुरा बोलने लग गया था. ये आपबीती बताते-बताते राहुल की मां रोने लगी. उसके बेटे को एटीएस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है. 

जानकारी के मुताबिक पहले इन लोगों ने खुद का धर्मांतरण किया फिर अन्य लोगों का धर्मांतरण कराने का धंधा शुरू कर दिया. राहुल की मां ने बताया कि वह शिवजी पर दूध चढ़ाने का विरोध करता था. रामायण पाठ के लिए भी मना करता था. यहां तक कि आरोपी राहुल शादी में फेरे लेने के लिए मना करता था और बोलता था मुझे अब जन्नत नसीब होगी.

मां ने लगाया ब्रेनवॉश का आरोप

मां का आरोप है कि राहुल का ब्रेनवॉश किया गया और उसके मूक बधिर होने का फायदा उठाया गया. लेकिन मां का दावा है कि उसे धर्म परिवर्तन की बात बाद में पता चली और उन्हें खुद भी इस पर यकीन नहीं हुआ. मां का कहना है कि अगर आज भी उनका बेटा हिन्दू बनकर आता है तो मैं उसको अपना लूंगी.

राहुल की मां ललिता ने बताया कि मेरे दो बेटे हैं और दो बेटियां हैं. राहुल दूसरे नम्बर का बेटा है. स्कूल टाइम से ही उसके मुस्लिम दोस्त थे. उसने सात अगस्त 2018 को धर्म परिवर्तन कर लिया था लेकिन हमें 19 अक्टूबर 2018 को इस बारे में पता चला. वह 28 अक्टूबर को घर छोड़कर चला गया था. फिर 3 नवम्बर 2018 को उसने एक लड़की से शादी कर ली, जिस लड़की से शादी की वो भी हिन्दू से मुस्लिम बनी है. राहुल की 10 महीने की बेटी है और वह एक प्राइवेट कंपनी में काम करता था.

बैग में मिली टोपी से गहराया शक

ललिता ने बताया कि मेरे बेटे को बहुत फोन आते थे लेकिन हमें कभी इस बारे में पता नहीं चला. वह कुछ भी घर में नहीं बताता था लेकिन एक दिन मां को उसके बैग से एक दिन टोपी मिली थी जिसके बाद शक हुआ. मां ने बताया कि वह मस्ज़िद भी जाने लगा था.

मां ने बताया कि UP ATS की टीम घर आई थी. उन्होंने बताया की उमर गौतम ने आपके बेटे का नाम लिया है और उसी ने राहुल का धर्म परिवर्तन करवाया है. राहुल की भाई मुकुल ने बताया कि वह मुस्लिम धर्म की एक्टिविटी करने लगा था और उसके सारे दोस्त मुसलमान थे.

यूपी एटीएस ने गिरफ्तार आरोपियों के पास से धर्मांतरण से संबंधित दस्तावेज, विभिन्न बैंकों की चेक बुक और पासबुक, आधार कार्ड, पैन कार्ड, लैपटॉप और मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं. एटीएस के बयान के मुताबिक राहुल भोला भी मूक-बधिर है और वह इरफान के साथ मिलकर मूक-बधिरों को धर्मांतरण की तरफ प्रेरित करता था. उसी ने मन्नू यादव का धर्म परिवर्तन कराया था. मन्नू यादव भी मूक बधिर है और उसने आदित्य गुप्ता का धर्मांतरण कराया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *