Toolkit Case: कांग्रेस ने Twitter को लिखी चिट्ठी, केंद्र सरकार के 11 मंत्रियों के खिलाफ की कार्रवाई की मांग

नई दिल्ली: कांग्रेस (Congress) ने ट्विटर को चिट्ठी लिखकर केंद्र सरकार के 11 मंत्रियों के खिलाफ मैनिपुलेटेड मीडिया (Manipulated Media) का टैग लगाने की मांग की है. कांग्रेस ने टूलकिट मामले में इन सभी मंत्रियों के ट्वीट को ट्विटर (Twitter) के लीगल डिपार्टमेंट को भेजकर कार्रवाई की मांग की है.

कांग्रेस की लिस्ट में इन 11 मंत्रियों के नाम हैं शामिल

कांग्रेस पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के जिन मंत्रियों की लिस्ट ट्विटर को भेजी है, उनमें पीयूष गोयल, गिरिराज सिंह, स्मृति ईरानी, रवि शंकर प्रसाद, प्रह्लाद जोशी, धर्मेन्द्र प्रधान, रमेश पोखरियाल निशंक, थावर चंद गहलोत, डॉ हर्षवर्धन, मुख्तार अब्बास नकवी और गजेंद्र सिंह शेखावत के नाम शामिल हैं.

टूलकिट केस में जांच के लिए ट्विटर के ऑफिस पहुंची थी पुलिस

टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल की जांच टीम सोमवार शाम को ट्विटर इंडिया (Twitter India) के दो ऑफिस पर जांच और पूछताछ के लिए पहुंची थी, लेकिन पुलिस की जांच टीम को खाली हाथ लौटना पड़ा और यहां पर पुलिस को कोई नहीं मिला.

दिल्ली पुलिस ने क्यों की ट्विटर इंडिया के ऑफिस की जांच

दिल्ली पुलिस के PRO चिन्मय बिस्वाल ने बताया, ‘दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की टीम सामान्य प्रक्रिया के तहत ट्विटर इंडिया (Twitter India) को नोटिस देने के लिए उसके दफ्तरों में गई थीं. इसकी जरुरत इसलिए पड़ी, क्योंकि वो जानना चाहते थे कि नोटिस देने के लिए सही व्यक्ति कौन है क्योंकि ट्विटर इंडिया के एमडी की ओर से मिला जवाब बिलकुल सटीक नहीं था.’

क्या है टूलकिट मामला?
 
टूलकिट से जुड़ा ताजा विवाद बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) के आरोप से जुड़ा है. कुछ दिन पहले संबित पात्रा ने कांग्रेस पर टूलकिट इस्तेमाल कर बीजेपी और देश की छवि खराब करने का आरोप लगाया था. हालांकि बाद में ट्विटर ने संबित पात्रा के ट्वीट्स को ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ की श्रेणी में डाल दिया. इसी बात पर दिल्ली पुलिस ने ट्विटर को नोटिस भेजा और जवाब मांगा कि ऐसा लेबल लगाने के पीछे क्या आधार और क्या जानकारी है, इसे ट्विटर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *