नाबालिग को डरा धमका कर कई दिनों तक उसी की बहन के देवर ने किया दुष्कर्म

चित्तौड़गढ़:

जिले के चंदेरिया थाना क्षेत्र में एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। नाबालिग को डरा धमका कर कई दिनों तक उसी की बहन के देवर ने दुष्कर्म किया, जिससे बालिका गर्भवती हो गई। सीढ़ियों से गिरने के बाद जब उसका गर्भपात हुआ तो घर के लोगों को इसका पता चला। बालिका के पिता ने चित्तौड़ चाइल्ड लाइन को इसकी सूचना दी। चाइल्ड लाइन के निर्देश के बाद बालिका के पिता ने थाने में मामला दर्ज करवाया। आरोपी खुद भी नाबालिग है।

चाइल्ड लाइन के निदेशक भोजराज सिंह पदमपुरा ने बताया कि गुजरात के एक परिवार की बड़ी बेटी की शादी चंदेरिया निवासी एक परिवार में हुई। अक्टूबर 2020 में बेटी की सास को पैरालाइसिस अटैक आया, जिसके बाद परिवार ने अपनी बेटी को सास की देखभाल के लिए चित्तौड़गढ़ भेजा। चूंकि बड़ी बेटी भी नाबालिग है इसलिए इसके साथ अपनी छोटी बेटी को भी भेज दिया।

माता-पिता को मारने की धमकी देकर दीदी का देवर करता रहा दुष्कर्म

चित्तौड़ आने के बाद 15 वर्षीय बालिका के साथ उसी की बड़ी बहन का नाबालिग देवर दुष्कर्म करने लगा और उसके माता पिता को जान से मार डालने की धमकी देकर उसको चुप रहने को भी कहा। नाबालिग के पिता ने आरोप लगाया कि इन सब में आरोपी का पूरा परिवार शामिल था। वे लोग भी बालिका को डरा धमकाते थे और बालिका को एक कमरे में बन्द रखकर अपने बेटे को उसी कमरे में भेजते थे। इसके अलावा पिता ने अपनी बड़ी बेटी के किडनैपिंग का भी आरोप लगाया है।

सीढ़ियों से गिरने पर हुआ गर्भपात

दिसंबर 2020 में दोनों बालिका की मां उन्हें लेने चित्तौड़ आई और गुजरात लेकर गई। एक मई को ससुराल पक्ष में शादी होने के कारण पूरा परिवार यहां चित्तौड़ आया। यहां बड़ी बहन को रोक लिया गया। जिससे छोटी बहन डर गई।

नाबालिग दुष्कर्म के बाद गर्भवती भी हो गई थी लेकिन परिवार को इस बारे में नहीं बताया। वापस गुजरात जाने के बाद वहां नाबालिग सीढ़ियों से फिसल गई और उसका गर्भपात हो गया। तब परिवार जनों को इसकी जानकारी हुई। परिवार वालों ने पूछा तो उसने पूरी घटना बताई।

परिवारजनों ने चित्तौड़ चाइल्ड लाइन से मांगी मदद

दुष्कर्म की जानकारी होने पर परिवार जनों ने चित्तौड़ चाइल्ड लाइन से कांटेक्ट किया। चाइल्ड लाइन के जिला समन्वयक भूपेंद्र सिंह ने उन्हें तुरंत चित्तौड़ आने के लिए कहा, जिस पर गुरुवार को पीड़ित परिवार चित्तौड़गढ़ आया, जहां नाबालिग बालिका की काउंसिलिंग की गई।

उसके बाद भूपेंद्र सिंह चंदेरिया थाना अधिकारी अनिल जोशी को पूरी घटना की जानकारी दी। नाबालिग के पिता के रिपोर्ट के आधार पर थाना अधिकारी ने पोक्सो एक्ट और भारतीय दंड संहिता में मामला दर्ज किया है। पिता ने दो बेटी के ससुराल पक्ष के दो महिलाओं सहित आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *