कोरोना का कहर: देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस वाला जिला बना बेंगलुरू

कोरोना का कहर: देश में जानलेवा कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने कहर बरपा रखा है. दक्षिण राज्य कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू और पूरे जिले में अभी कोरोना के करीब डेढ़ लाख एक्टिव केस हैं, जो देश के किसी भी जिले में सबसे ज्यादा हैं. बेंगलुरू के बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र का पुणे जिला है, जहां कोरोना के एक लाख 16 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं.

दिल्ली में एक लाख एक्टिव केस

अकेले बेंगलुरू में शुक्रवार को कोरोना के 16 हजार 662 नए मामले सामने आए. जिसके बाद जिले में एक्टिव मामलों की संख्या एक लाख 49 हजार 624 हो गई. वहीं देश की राजधानी दिल्ली में अभी करीब एक लाख एक्टिव केस हैं. जबकि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में 81 हजार 174 एक्टिव केस हैं.

कर्नाटक की ताजा स्थिति

पूरे कर्नाटक की बात करें तो पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना के 26 हजार 962 नए मामले सामने आए हैं. वहीं 190 लोगों की मौत हो गई. राज्य में अब संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 12 लाख 74 हजार 959 और इस बीमारी से मृतकों की कुल संख्या 14 हजार 75 हो गई है. राज्य में इस समय एक्टिव मरीजों की संख्या 2 लाख 14 हजार 311 है, जिनमें से एक हजार 128 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं.

येदियुरप्पा ने प्रधानमंत्री से 1471 टन ऑक्सीजन का आग्रह किया

बढ़ते मामलों के बीच राज्य के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने 1,471 टन ऑक्सीजन और रेमडेसिविर की दो लाख खुराकों की आपूर्ति करने का केंद्र से आग्रह किया है. मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा, “राज्य को 25 अप्रैल से 1,142 टन और 30 अप्रैल के बाद से 1,471 टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है.

येदियुरप्पा ने कहा कि बृहस्पतिवार को 500 टन ऑक्सीजन का इस्तेमाल किया गया था जबकि केंद्र ने केवल 300 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की थी. उन्होंने कहा कि यदि यही स्थिति बनी रहती है, तो कई स्वास्थ्य केंद्रों को बंद करने की नौबत आ सकती है. येदियुरप्पा ने कहा कि संक्रमण के मामलों में तेजी से रेमडेसिविर दवाई की मांग भी बढ़ गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *