Lockdown Update: तेजी बढ़ रहे Corona संक्रमण के बीच लॉकडाउन की चर्चा तेज, राज्य सरकारें उठा रहीं कड़े कदम

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Cornavirus) संक्रमण तेजी से फैल रहा है. हर रोज रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं. जिन राज्यों में हालात ज्यादा खराब हैं वहां की सरकारें अपने स्तर पर सख्त पाबंदियां लगा रही हैं. ऐसे में फिर से पूर्ण लॉकडाउन (lockdown) की चर्चा जोरों पर है. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) और मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कुछ जगहों पर लॉकडाउन लगाया गया है. जबकि दिल्‍ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्‍तर प्रदेश और गुजरात जैसे राज्‍यों में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगा है. 

उत्तर प्रदेश में फिलहाल लॉकडाउन नहीं

बढ़ते संक्रमण के चलते लॉकडाउन (Lockdown) की चर्चा जोरों पर है. उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को खुद स्पष्ट करना पड़ा कि फिलहाल लॉकडाउन का कोई इरादा नहीं है. लेकिन उत्‍तर प्रदेश में Covid-19 के ऐक्टिव केस 81 हजार से ज्‍यादा हो चुके हैं. राजधानी लखनऊ के हालात बेहद खराब हैं. सोमवार केा मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जरूरत हो तो प्राइवेट अस्‍पतालों को ओवरटेक किया जाए.

महाराष्ट्र में फैसला आज

महाराष्‍ट्र (Maharashtra) के हालात सबसे खराब हैं. राज्य में वीकेंड लॉकडाउन लागू है. एनसीपी नेता नवाब मलिक कह चुके हैं कि सरकार लॉकडाउन पर फैसला ले सकती है. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री असलम शेख ने कहा है कि आज शाम तक सरकार लॉकडाउन पर फैसला ले सकती है. महाराष्ट्र सरकार Covid-19 की स्थिति देखते हुए तेजी से दिशानिर्देश बदल रही है. 

‘अगर अस्‍पतालों में हालात बिगड़े तो लॉकडाउन’

दिल्‍ली सरकार की तरफ से कहा गया है कि वह दोबारा लॉकडाउन के पक्ष में नहीं है. मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) खुद लॉकडाउन की संभावना से इनकार कर चुके हैं. हालांकि यहां नाइट कर्फ्यू सहित तमाम पाबंदियां लागूं हैं. लोगों को लगातार कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए जागरुक किया जा रहा है. मास्क न पहनने वालों के चालान किए जा रहे हैं. मेट्रो में भी चेकिंग की जा रही है. फिर भी हालात काबू में नहीं हैं. रविवार को सरकार की तरफ से कहा गया, ‘अगर अस्‍पतालों में हालात बिगड़ते हैं तो हमारे पास लॉकडाउन के अलावा कोई और विकल्‍प नहीं रह जाएगा.’

कर्नाटक में पीएम से चर्चा के बाद फैसला

कर्नाटक मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने आज कहा है कि फिलहाल लॉकडाउन (Lockdown) का कोई विचार नहीं है. उन्‍होंने कहा कि ‘अभी हमने नाइट कर्फ्यू लगा रखा है और अगर हालात बिगड़ते हैं तो हम प्रधानमंत्री से चर्चा करने के बाद फैसला करेंगे.’ सीएम ने कहा है कि हालात पर एक सप्‍ताह तक नजर रखी जाएगी, फिर आगे का फैसला होगा.

मध्य प्रदेश के हालात चिंताजनक

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण तबाही मचा रहा है. सोमवार को राजधानी भोपाल में बीते एक साल का रिकॉर्ड टूट गया. पहली बार एक दिन में 1456 मरीज मिले हैं. इसके बाद सरकार ने पूरे भोपाल में कोरोना कर्फ्यू 19 अप्रैल तक लागू करने का फैसला लिया है. भोपाल में नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है. मध्य प्रदेश में इंदौर, जबलपुर, उज्जैन, विदिशा सहित 12 शहरों में लॉकडाउन लगाया गया है. बड़वानी, राजगढ़, विदिशा जिलों के शहरी और ग्रामीण इलाकों में 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन जारी रहेगा. जबलपुर शहर, बालाघाट, नरसिंहपुर और सिवनी जिलों में 12 अप्रैल की रात से 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन का फैसला किया गया है.

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में लॉकडाउन

छत्तीसगढ़ में कोरोना से हाहाकार मचा हुआ है. राजधानी रायपुर में ज्यादा बुरा हाला है. शुक्रवार को ही 10 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई थी. कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए बाहर से आने वाले लोगों को आरटी-पीसीआर टेस्ट (RT PCR Test) की नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है. एयरपोर्ट पर आने वाले हर यात्री की जांच की जा रही है.

पंजाब-हरियाणा में कई जगह नाइट कर्फ्यू

पंजाब और हरियाणा के कई हिस्‍सों में नाइट कर्फ्यू है. चंडीगढ़ में लगातार कोविड संक्रमण बढ़ रहा है. यहां लॉकडाउन की चर्चा है. चंडीगढ़ ऐडमिनिस्‍ट्रेटर के एडवाइजर मनोज परीदा ने कहा, ‘अगर हालात काफी गंभीर होते हैं और कोरोना केस बढ़ते हैं तो लॉकडाउन को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *