America ने लिया बदला: सीरिया में Iran समर्थित Militia को बनाया निशाना, कई ठिकानों पर दागीं मिसाइलें

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने इराक में अमेरिकी सेना के ठिकानों पर हुए हमले का बदला ले लिया है. बाइडेन के आदेश पर गुरुवार को सीरिया (Syria) में ईरान समर्थित मिलिशिया (Iran-backed Militia) समूह पर हवाई हमले किए गए. पेंटागन (Pentagon) ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इस महीने की शुरुआत में इराक (Iraq) में यूएस आर्मी को निशाना बनाया गया था, जिसके जवाब में मिलिशिया के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की गई है.

हो सकते हैं और Attack

पेंटागन ने बताया कि हवाई हमला बॉर्डर कंट्रोल पॉइंट पर ईरान समर्थित समर्थित कातब हिजबुल्लाह और काताब सैय्यद अल-शुहादा (Kataeb Hezbollah and Kataeb Sayyid al-Shuhada) को ध्यान में रखकर किया गया था. पेंटागन के प्रवक्ता जॉन किर्बी (John Kirby) ने कहा कि ये हमले इराक में अमेरिका और गठबंधन सेनाओं पर किए गए हमले का जवाब है. उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो अमेरिका आगे भी इस तरह की कार्रवाई को अंजाम देता रहेगा.

Air Strike ने दिया स्पष्ट संदेश 

15 फरवरी को कुर्द क्षेत्र की राजधानी आर्बिल में एक सैन्य ठिकाने पर रॉकेट हमला किया गया था. जिसमें एक विदेशी कॉन्ट्रैक्टर और नागरिक के मौत हो गई थी. साथ ही अमेरिकी सैनिकों को भी चोटें आई थीं. पेंटागन ने कहा कि मिलिशिया पर किया गया हवाई हमला स्पष्ट संदेश है कि राष्ट्रपति बाइडेन अमेरिकी और गठबंधन सैनिकों की रक्षा के लिए कुछ भी करेंगे.

पहली सैन्य कार्रवाई

सारिया में हुआ ये हवाई हमला बाइडेन प्रशासन द्वारा की गई पहली सैन्य कार्रवाई है. पेंटागन प्रवक्ता ने आगे कहा कि अमेरिकी कार्रवाई एक आनुपातिक सैन्य प्रतिक्रिया थी, जिसे कूटनीतिक उपायों के साथ गठबंधन सहयोगियों के साथ परामर्श के बाद लिया गया था. जिन ठिकानों को निशाना बनाया गया, उसे लेकर हमें पूरी जानकारी थी. हमें पता था कि हमने किसे निशाना बनाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *