Congress पर बरसीं वित्त मंत्री Nirmala Sitharaman, कहा- राहुल गांधी बताएं कृषि कानूनों में क्या कमी

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने शनिवार को लोक सभा में आम बजट (Budget 2021) पर जवाब दिया. इस दौरान उन्होंने बताया कि पीएम किसान सम्मान योजना के शुरू होने से लेकर 10.75 करोड़ किसानों के बैंक खातो में 1.15 लाख करोड़ ट्रांसफर किए गए हैं.

राहुल गांधी बताएं कानूनों में क्या कमी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘मैंने सोचा कि कृषि कानूनों के एक खंड को निकालकर राहुल गांधी संसद में कहेंगे कि इसकी वजह से किसानों को नुकसान होने वाला है, इसका हम समर्थन नहीं करेंगे. ऐसा करके इन तीनों कानूनों से एक तो ऐसा क्लॉज बताएंगे कि जो किसानों के खिलाफ है लेकिन ऐसा नहीं हुआ.’ उन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी बताएं कि कृषि कानूनों में क्या कमी है?

राहुल गांधी के हम दो हमारे दो बयान का जवाब

वित्त मंत्री ने अपने भाषण के दौरान राहुल गांधी के हम दो हमारे दो बयान का जवाब दिया. उन्होंने कहा, ‘एक पार्टी की सरकार में ‘दामाद’ को कई राज्यों (राजस्थान, हरियाणा) में जमीनें मिलीं. मैं आपको इसके डीटेल्स दे सकती हूं. दरअसल, हम दो हमारे दो ये हैं. हम दो लोग पार्टी की देखरेख कर रहे हैं. बाकी के दो लोग (बेटी और दामाद) दूसरी चीजों को देखेंगे, लेकिन हमारी पार्टी ऐसा नहीं करती है. पीएम स्वनिधि योजना इसका ट्रेलर है. पीएम स्वनिधि योजना के तहत छोटे-छोटे व्यापारियों की मदद की गई.’

कांग्रेस ने कृषि कानूनों पर क्यों लिया यू टर्न: सीतारमण

वित्त मंत्री ने कहा, ‘कांग्रेस क्यों पहले कृषि कानूनों का समर्थन करती थी और अब बदल गई. किसानों को इतना ज्ञान देने वाली कांग्रेस बहुत से राज्यों में चुनाव जीतने के लिए कहती थी कि हम कृषि लोन देंगे, लेकिन मध्य प्रदेश में यह लागू नहीं हुआ. कांग्रेस ने वोट लिया और किसानों को गुमराह किया.’ उन्होंने आगे कहा, ‘कांग्रेस ने राजस्थान, मध्य प्रदेश और छतीसगढ़ में कर्ज माफी नहीं किया. उम्मीद थी कि कांग्रेस ने इस पर बयान देगी लेकिन नहीं दिया। उम्मीद थी कि कांग्रेस पराली के विषय पर पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों को कुछ राहत दिलाएगी मगर ये भी नहीं किया.’

नीतियों पर आधारित है बजट: निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने लोक सभा में बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा, ‘यह बजट नीतियों पर आधारित है. हमने अर्थव्यवस्था को खोला और कई सुधार किए. भाजपा ने लगातार भारत, भारतीय व्यवसाय और अर्थव्यवस्था की मजबूती पर विश्वास किया. यह जनसंघ से लेकर अभी तक चल रहा है. भारतीय उद्यम जिस सम्मान के हकदार थे हमने वह दिया.’

देश को आत्मनिर्भर बनाएगा बजट: सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने बताया, ‘केंद्रीय बजट में उठाए गए कदम देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हैं. महामारी की चुनौतियों के बाद भी सरकार ने देश के दीर्घकालीन लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सुधारों को आगे बढ़ाया है. जो सुधार किए गए हैं, उससे भारत दुनिया में शीर्ष अर्थव्यवस्था बनने का रास्ता साफ करेगा.’

‘किसानों के खाते में ट्रांसफर किए गए 1.15 लाख रुपये’

सवाल था कि आपने खेती के बजट को 10 हजार करोड़ क्यों कम किया? आपको किसानों की चिंता नहीं है? इस पर लोक सभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘इसे ठीक से नहीं समझा गया, क्योंकि पीएम किसान सम्मान योजना के शुरू होने से लेकर 10.75 करोड़ किसानों के बैंक खातो में 1.15 लाख करोड़ ट्रांसफर किया गया है.’ उन्होंने बताया, ‘पश्चिम बंगाल की तरफ से छोटे और सीमांत किसानों की सूची नहीं देने की वजह से यह निर्णय लिया गया.’

रक्षा बजट पर वित्त मंत्री ने दी जानकारी

वित्त मंत्री ने बताया, ‘बजट में रक्षा क्षेत्र के लिए पूंजी व्यय और राजस्व व्यय में वृद्धि हुई है, वन रैंक वन पेंशन की वजह से पिछले साल अधिक प्रावधान किया गया.’ उन्होंने आगे कहा, ‘2013-14 में राजस्व के तहत 1,16,931 करोड़ रुपये, पूंजी के तहत 86,741 करोड़ और 44,500 करोड़ रुपये पेंशन के तहत आवंटित किए गए थे. अब राजस्व के तहत 2,09,319 करोड़, पूंजी के तहत 1,13,734 करोड़ और पेंशन के तहत 1,33,825 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *