किसान आंदोलन पर ट्वीट के बाद Rihanna-Greta को भारत सरकार ने दिया जवाब

नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन (Farmers Protest) पिछले 70 दिनों से जारी है. इस बीच इंटरनेशनल सिंगर रिहाना (Rihanna) और पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) समेत इंटरनेशनल स्तर पर कई हस्तियों ने किसान आंदोलन पर प्रतिक्रिया दी है. इसके बाद भारतीय विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) ने बयान जारी किया है.

विदेश मंत्रालय ने दिया कड़ा जवाब

विदेश मंत्रालय (MEA) ने कहा, ‘सनसनीखेज सोशल मीडिया हैशटैग और कमेंट्स से लुभाने का तरीका, खासकर जब मशहूर हस्तियों और अन्य लोगों द्वारा किया गया हो तो यह न तो सटीक है और न ही जिम्मेदाराना है.’ मंत्रालय ने आगे कहा, ‘इस तरह के मामलों पर टिप्पणी करने से पहले हम आग्रह करते हैं कि तथ्यों का पता लगाया जाए और मुद्दों की उचित समझ की जाए. भारत की संसद ने पूर्ण बहस और चर्चा के बाद कृषि क्षेत्र से संबंधित सुधारवादी कानून पारित किए.’

किसान आंदोलन पर क्या बोलीं रिहाना?

32 वर्षीय पॉप स्टार रिहाना (Rihanna) ने दिल्ली के पड़ोसी राज्य हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट बंद होने पर एक न्यूज वेबसाइट की खबर को शेयर करते हुए किसानों का पक्ष लिया. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?’ इसके साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में #FarmersProtest हैशटैग भी लगाया.

ग्रेटा थनबर्ग बोलीं- हम किसानों के साथ

रिहाना के बाद ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने भी किसानों के प्रदर्शन (Farmers Protest) को लेकर ट्वीट किया और लिखा, ‘हम भारत में जारी किसान आंदोलन के साथ एकजुटता के साथ खड़े हैं.’ ग्रेटा ने भी अपने ट्वीट में #FarmersProtest हैशटैग भी लगाया.

70 दिनों से जारी है किसानों का प्रदर्शन

नए कृषि कानूनों (New Agriculture Laws) के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन (Farmers Protest) पिछले 70 दिनों से जारी है और किसान लगातार तीनों कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. किसानों की मांग है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए कानूनी गारंटी दी जाए और तीनों नए कृषि कानूनों को रद्द किया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *