‘इजी कैश’ एप से लोन लिया, पिता को धमकाया तो बेटे ने लगा ली फांसी

शहर में विष्णु मंदिर के पीछे कॉलोनी में रहने वाले 20 साल के युवक राजकुमार कुशवाह ने फांसी लगाकर जान दे दी है। राजकुमार ने छोटे लोन देने वाले ‘इजी कैश’ एप के जरिये लोन लिया था। इसी एप कंपनी से रात में राजकुमार के पास फोन आया और 6 हजार रुपए देने के लिए धमकाया। इसके बाद राजकुमार के पिता के पास भी फोन आया और उन्हें धमकी दी कि 6 हजार रुपए नहीं दिए तो देख लेंगे। संभवत: इसी से आहत होकर राजकुमार ने आत्महत्या कर ली।

राजकुमार

राजकुमार

फांसी लगाने से पहले उसने अपना मोबाइल फोन और सिम भी तोड़ दी। दरअसल, गूगल प्ले स्टोर पर ऐसे कई एप हैं जो 10 हजार रुपए तक का लोन दे रहे हैं और मोटा ब्याज वसूलते हैं। लोन चुकाने से चूके तो यह एप कंपनियां न सिर्फ लोन लेने वालों को फोन कर धमकी देती हैं, बल्कि उनकी कॉन्ट्रेक्ट लिस्ट में सेव मोबाइल नंबर चुराकर अन्य परिचितों को भी फोन कर धमकाती हैं।

जानकारी के मुताबिक राजकुमार कुशवाह (20) पुत्र प्रहलाद कुशवाह निवासी विष्णु मंदिर के पीछे शिवपुरी ने गुरुवार-शुक्रवार की रात 1 से 2 बजे के बीच फांसी लगाकर जान दे दी। हलवाई पिता प्रहलाद यादव एक शादी में काम करने गए थे। बेटा भी उनके साथ काम पर गया था, लेकिन रात में लौट आया था। उसके बाद देर रात वे घर लौटे तो कमरे में इकलौते बेटे राजकुमार का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला।

sources: https://www.bhaskar.com/local/mp/gwalior/shivpuri/news/took-loan-from-easy-cash-app-father-threatened-and-son-hanged-128003884.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *