WHO ने कहा- कोरोना कहां से आया था? यह जानना जरूरी; पता लगाएंगे वुहान में क्या हुआ था

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस अलोम घेब्रेयसस का कहना है कि कोरोना वायरस कहां से आया, यह जानना जरूरी है। इस बारे में WHO को रुख बिल्कुल साफ है। ऐसा करके हम भविष्य में होने वाली इस तरह की समस्याओं को रोकने में हमारी मदद कर सकता है।

उन्होंने कहा कि हम इसका सोर्स जानने की हर कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए चीन के वुहान से स्टडी शुरू की जाएगी। पता करेंगे कि वहां क्या हुआ था। इसके अलावा देखा जाएगा कि किसी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए दूसरे रास्ते क्या हैं।

यूरोप में अब सबसे ज्यादा मौतें हो रहीं

कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें अब यूरोप में हो रहीं हैं। यहां हर दिन 3-4 हजार लोग संक्रमण से दम तोड़ रहे हैं। यहां इटली, पोलैंड, रूस, यूके, फ्रांस समेत 10 देश ऐसे हैं जहां हर दिन 100 से 700 लोग जान गंवा रहे हैं। यूरोप के 48 देशों में अब तक संक्रमण से 3.86 लोगों की मौत हो चुकी है।

हर दिन होने वाली मौतों में दूसरे नंबर पर नॉर्थ अमेरिका और तीसरे पर एशिया है। नॉर्थ अमेरिका में हर दिन 1500 से 2000 मरीजों की मौत हो रहीं, जबकि एशिया में हर दिन 1400 से 1800 लोग जान गंवा रहे।

अमेरिका में 50 लाख और फ्रांस में 20 लाख एक्टिव केस
अमेरिका में अभी सबसे ज्यादा 50 लाख एक्टिव केस हैं। मतलब ऐसे मरीज जिनका इलाज चल रहा है। फ्रांस में ऐसे मरीजों की संख्या 20 लाख, इटली में 7.94 लाख, ब्राजील में 5.63 लाख एक्टिव मरीज हैं। भारत में ऐसे मरीजों की संख्या 4.46 है।

अमेरिका में लगातार दूसरी लहर आने की चेतावनी

अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीज के डायरेक्टर डॉ. एंथनी फॉसी ने एक के बाद लगातार दूसरी लहर आने की चेतावनी दी है। NBC न्यूज चैनल के एक प्रोग्राम में फॉसी ने कहा कि अचानक से कुछ बदलने नहीं जा रहा। हालांकि अभी भी देर नहीं हुई है। लोग थैंक्सगिविंग की छुट्टियां मनाकर घर लौट रहे हैं। सभी मास्क पहने, बड़े ग्रुप न बनाएं और सोशल डिस्टेंसिंग बरकरार रखें।

दुनिया में अब तक कोरोना के 6 करोड़ 31 लाख 64 हजार 883 मामले सामने आ चुके हैं। 14 लाख 66 हजार 27 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात ये कि अब तक 4 करोड़ 36 लाख 41 हजार 631 लोग ठीक हो चुके हैं।

चीन: वायरस पर नया प्रोपेगैंडा फैला रहा
पूरी दुनिया में कोरोनावायरस चीन के वुहान से ही फैला। अब चीन नया प्रोपेगैंडा फैला रहा है। चीनी मीडिया इस बात को बढ़-चढ़कर बता रहा है कि वायरस चीन से नहीं फैला। उनके देश में यह वायरस फ्रोजन फूड्स के जरिए किसी बाहर के देश से आया। ‘पीपुल्स डेली’ समेत कई चीनी अखबारों के मुताबिक- सभी सबूत इस बात की ओर इशारा करते हैं कि कोरोनावायरस आउटब्रेक वुहान में नहीं हुआ। चीन के पूर्व चीफ एपिडेमियोलॉजिस्ट झेंग गुआंग का कहना है कि वुहान में वायरस का पता चला, लेकिन वहां पैदा नहीं हुआ

ब्रिटेन: नए मामलों में कमी

इस बीच, ब्रिटेन में महीनेभर के लॉकडाउन से नए मामलों में 30% की कमी देखी गई है। करीब एक लाख वॉलंटियर्स पर की गई स्टडी के ये नतीजे सोमवार को सामने आए। केस बढ़ने पर ब्रिटेन में 5 नवंबर को दूसरा लॉकडाउन लगाया गया था। इंपीरियल कॉलेज ऑफ लंदन की स्टडी में बताया गया कि 16 अक्टूबर से 2 नवंबर के बीच 10 हजार लोगों पर 130 केस सामने आ रहे थे। वहीं, लॉकडाउन के बाद 13 से 24 नवंबर के बीच केस घटकर 10 हजार लोगों पर 96 रह गए।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देशसंक्रमितमौतेंठीक हुए
अमेरिका13,750,404273,0728,107,203
भारत9,432,075137,1778,846,313
ब्राजील6,314,740172,8485,578,118
रूस2,269,31639,5271,761,457
फ्रांस2,218,48352,325161,427
स्पेन1,646,19244,668उपलब्ध नहीं
यूके1,617,32758,245उपलब्ध नहीं
इटली1,585,17854,904734,503
अर्जेंटीना1,418,80738,4731,249,843
कोलंबिया1,308,37636,5841,204,452

(आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *