जेल से रिहा होने के बाद बोले अर्नब- ‘मैं सुप्रीम कोर्ट का आभारी हूं, ये भारत के लोगों की जीत है’

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी आज तलोजा जेल से रिहा हो गए हैं। रिहा होने के बाद अर्नब गोस्वामी ने कहा कि ‘सुप्रीम कोर्ट का आभारी हूं। ये भारत के लोगों की जीत है। 

अर्नब गोस्वामी ने तलोजा जेल से रिहा होने के बाद अपने समर्थकों के प्रति आभार प्रकट किया। जेल से बाहर निकलने  के बाद अर्नब गोस्वामी ने भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगाए। 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने आज अर्नब गोस्वामी की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए जमानत दी थी। जिसके बाद कोर्ट ने रायगढ़ पुलिस को उन्हें जल्द रिहा करने का आदेश भी दिया था। 

मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार के वकील से सवाल किया कि‘‘क्या धन का भुगतान नहीं करना, आत्महत्या के लिए उकसाना है? यह न्याय का उपहास होगा अगर प्राथमिकी लंबित होने के दौरान जमानत नहीं दी जाती है। कोई व्यक्ति दूसरे व्यक्ति को पैसे का भुगतान नहीं करता है तो क्या यह आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला है? अगर हाईकोर्ट इस तरह के मामलों में कार्यवाही नहीं करेंगे तो व्यक्तिगत स्वतंत्रता पूरी तरह नष्ट हो जायेगी। हम इसे लेकर बहुत ज्यादा चिंतित हैं। अगर हम इस तरह के मामलों में कार्रवाई नहीं करेंगे तो यह बहुत ही परेशानी वाली बात होगी।’’

अर्नब गोस्वामी ने बंबई उच्च न्यायालय के नौ नवंबर के आदेश को चुनौती दी है जिसमें उन्हें अंतरिम जमानत देने से इंकार करते हुए कहा गया था, ‘‘इसमें हमारे असाधारण अधिकार का इस्तेमाल करने के लिए कोई मामला नहीं बनता है।’’

अर्नब गोस्वामी को चार नंवबर को बिना किसी सूचना के एक बंद हुए केस में महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद उन्हें अलीबाग कोर्ट में पेश किया था। स्थानीय कोर्ट ने इस मामले में महाराष्ट्र पुलिस को फटकार लगाते हुए पूछा था कि किसके कहने पर बंद हुए केस को खोला गया। इस दौरान पुलिस ने पुलिस कस्टडी की मांग की थी, हालांकि कोर्ट ने अर्नब को गोस्वामी को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *